तेंदू फल खाने के आश्चर्यजनक फायदे और नुकसान

हेल्थ डेस्क- किसी भी फल का सेवन करना सेहत के लिए काफी लाभदायक होता है. उन्हीं फलों में से एक है तेंदू फल जो दिखने में टमाटर की तरह दिखता है. यह फल स्वादिष्ट होने के साथ ही रसदार मीठा भी होता है. वही तेंदू के कच्चे फल की बात करें तो इसका स्वाद थोड़ा कड़वा और कसैला होता है. इसे अंग्रेजी में परसीमन फ्रूट कहा जाता है. इस फल की तासीर ठंडी होती है. मुख्य रूप से यह फल उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश की पहाड़ियों में पाया जाता है.

तेंदू फल खाने के आश्चर्यजनक फायदे और नुकसान

तेंदू फल को गाब, गाभ और केंदू आदि नामों से जाना जाता है. यह फल स्वाद के लिए ही नहीं खाया जाता है बल्कि अच्छी सेहत के लिए भी यह लाभदायक है. दरअसल, इस में पाए जाने वाले पोषक तत्व कई शारीरिक बीमारियों से बचाने के साथ ही बीमारी की अवस्था में कुछ लक्षणों को कम करने में भी मददगार होती हैं. इसका नियमित सेवन शरीर को स्वस्थ रखने में मददगार होता है.

हालांकि किसी भी चीज का अति सेवन सेहत के लिए नुकसानदायक भी हो सकता है. ठीक उसी तरह इसका भी अधिक मात्रा में सेवन करना शारीरिक समस्याओं का कारण भी बन सकता है. इसलिए तेंदू फल का सेवन करने से पहले आपको इसके बारे में अच्छी तरह से जान लेना आवश्यक है.

तेंदू फल में मौजूद पोषक तत्व-

तेंदू फल में पानी, प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, एनर्जी, शुगर, कैल्शियम, मैग्नीशियम, फास्फोरस, मैग्निशियम और पोटेशियम के साथ ही विटामिन सी, विटामिन बी और विटामिन ए जैसे कई पोषक तत्व मौजूद होते हैं.

तेंदू फल खाने के आश्चर्यजनक फायदे और नुकसान

तेंदू फल खाने के आश्चर्यजनक फायदे-

1 .तेंदू फल में एंटीऑक्सीडेंट और एंटी डायबिटीक गुण मौजूद होते हैं जो रक्त में मौजूद शुगर के स्तर को कम कर उसे सामान्य रखने में मदद करते हैं. मधुमेह से बचाव होता है. इसलिए मधुमेह रोगियों के लिए तेंदू फल का सेवन करना फायदेमंद होता है.

2 .पाचन के स्वास्थ्य के लिए भी तेंदू फल का सेवन करना लाभदायक होता है क्योंकि इसमें फाइबर की कुछ मात्रा पाई जाती है जो पाचन में सुधार कर भोजन को अच्छे से पचाने का काम करती है और पाचन तंत्र को मजबूत बनाए रखने में मददगार होती है. इसके अलावा फाइबर कब्ज और गैस जैसी समस्याओं को भी दूर करता है.

3 .जिन लोगों को बार- बार बुखार आने की समस्या रहती है उनके लिए तेंदू फल का सेवन करना काफी लाभदायक होता है क्योंकि इसमें विटामिन सी प्रचुर मात्रा में पाई जाती है जो प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करती है और प्रतिरोधक क्षमता मजबूत होने से कई बीमारियों से बचाव होता है.

4 .बवासीर के रोगियों के लिए भी तेंदू फल का सेवन करना लाभदायक होता है. बवासीर मुख्य रूप से कब्ज की समस्या लंबे समय तक रहने के कारण होती है, वहीं से फल में पाए जाने वाला फाइबर कब्ज की समस्या को दूर करता है जो बवासीर रोग के लक्षणों को कम करने और बवासीर रोग से बचाव करने में मददगार होता है.

5 .चोट लग जाने पर घाव को जल्दी ठीक करने के लिए भी तेंदू फल का इस्तेमाल किया जा सकता है. इसमें मौजूद रस घाव पर लगाने से घाव जल्दी भर जाता है और घाव में होने वाले दर्द से भी राहत मिलता है.

6 .तेंदू फल में एंटी कैंसर गुण मौजूद होते हैं जो शरीर में मौजूद कैंसर कोशिकाओं को पनपने से रोकते हैं और कैंसर से बचाव करने में मददगार होते हैं. कैंसर से बचाव के लिए तेंदू फल को डाइट में शामिल किया जा सकता है.

7 .आंखों के स्वास्थ्य के लिए भी इसका सेवन करना लाभदायक होता है क्योंकि इसमें विटामिन ए प्रचुर मात्रा में पाई जाती है जो आंखों की रोशनी को बढ़ाने से लेकर बढ़ती उम्र में होने वाली अन्य आंखों की समस्याओं से भी बचाव करने में मददगार होता है.

8 .तेंदू फल वजन को कम करने में भी सहायक होता है. इसमें मौजूद फाइबर प्रमुख घटक के रूप में काम करता है जो पेट को लंबे समय तक भरा हुआ महसूस कराने में मददगार होता है और अनियमित भूख को नियमित करने में मददगार होता है जिससे आप हर समय और ज्यादा नहीं खाते हैं जिससे वजन को कम करने में मदद मिलती है.

9 .तेंदू फल में एंटी इन्फ्लेमेटरी गुण मौजूद होते हैं जो शारीरिक सूजन को कम करने में मददगार होती है. इसके लिए आप तेंदू फल को पीसकर सूजन वाले हिस्से पर लगाएं. यह सूजन को कम करने में आपकी मदद कर सकता है.

10 .तेंदू फल के सेवन से पेशाब में हो रही जलन की समस्या दूर हो जाती है. गर्मी में अक्सर हो रही पेशाब की जलन को दूर करने के लिए तेंदू फल का जूस पीना फायदेमंद होता है.

तेंदू फल के नुकसान-

कुछ लोगों को फ्रूट एलर्जी की समस्या होती है वैसे लोग यदि तेंदू फल का सेवन करते हैं तो इससे भी एलर्जी की समस्या हो सकती है.

तेंदू फल में फाइबर प्रचुर मात्रा में पाई जाती है इसलिए इसका अधिक मात्रा में सेवन करने से पेट दर्द, गैस, उल्टी और मतली जैसी अन्य समस्याएं हो सकती है इसलिए इसका सेवन अधिक मात्रा में नहीं करना चाहिए.

यदि कोई व्यक्ति किसी विशेष प्रकार की दवाओं का सेवन करता है तो तेंदू फल का सेवन करने से पहले डॉक्टर की सलाह ले लेना ही उचित होगा.

तेंदू फल में एंटी डायबिटीक गुण पाए जाने के कारण तेंदू फल का अधिक मात्रा में सेवन करने से ब्लड शुगर अधिक कम हो सकती है इसलिए अधिक मात्रा में सेवन करने से बचना चाहिए.

कैसे करें तेंदू फल का सेवन-

1 .तेंदू फल को आप सीधे भी सेवन कर सकते हैं.

2 .अगर आप जूस पीना चाहते हैं तो सुबह-. शाम खाने के बाद एक गिलास तेंदू फल का जूस पी सकते हैं

3 .तेंदू फल को अन्य फलों के साथ मिलाकर फ्रूट चाट, सलाद के रूप में भी सेवन किया जा सकता है.

4 .तेंदू फल का आइसक्रीम व स्मूदी में उपयोग कर सेवन किया जा सकता है.

5 .कुछ लोगों की त्वचा बहुत ही ज्यादा संवेदनशील होती है इसलिए उन लोगों त्वचा पर तेंदू फल का इस्तेमाल करने से एलर्जी की समस्या होने की संभावना अधिक रहती है.

नोट- यह लेख शैक्षणिक उदेश्य से लिखा गया है अधिक जानकारी के लिए डाइटिशियन से सलाह लें. धन्यवाद.

Share on:

मैं आयुर्वेद चिकित्सक हूँ और जड़ी-बूटियों (आयुर्वेद) रस, भस्मों द्वारा लकवा, सायटिका, गठिया, खूनी एवं वादी बवासीर, चर्म रोग, गुप्त रोग आदि रोगों का इलाज करता हूँ।

Leave a Comment