गर्मियों में करें इन 3 फलों का सेवन, रहेंगे चुस्त, दुरुस्त और स्वस्थ

हेल्थ डेस्क- गर्मियों की शुरुआत होते ही हमारे शरीर में कई तरह की समस्याएं होने लगती है. जिनमें शरीर में पानी की कमी होना, पेचिस, दस्त पेट से जुड़ी समस्याएं मुख्य रूप से परेशान करती है तो वही लू लगने का भय भी बना रहता है. लेकिन यदि सेहत का ख्याल रखा जाए और खानपान में सुधार किया जाए तो इन समस्याओं से हम आसानी से बचाव कर सकते हैं. आज हम आपको ऐसे ही 3 फलों के बारे में बताने जा रहे हैं जिसका नियमित सेवन किया जाए तो हमारा शरीर चुस्त-दुरुस्त व स्वस्थ बना रह सकता है क्योंकि ये चीजें हमारे शरीर के लिए काफी लाभदायक होते हैं.

गर्मियों में करें इन 3 फलों का सेवन, रहेंगे चुस्त, दुरुस्त और स्वस्थ

जी हां आज हम जिन 3 चीजों के बारे में बताने जा रहे हैं वे हैं बेल, शहतूत एवं तेंदू फल.

तो चलिए जानते हैं इन फलों के सेवन से हमारे शरीर को क्या-क्या फायदे होते हैं ?

1 .गर्मियों में बेल के फायदे-

गर्मियों में करें इन 3 फलों का सेवन, रहेंगे चुस्त, दुरुस्त और स्वस्थ

1 .गर्मी के दुष्प्रभाव और सेहत की हर समस्या के लिए बेल का सेवन करना रामबाण की तरह कारगर है. बेल न सिर्फ शरीर को ठंडक पहुंचाता है बल्कि सेहत से जुड़े कई लाभ देता है.

2 .गर्मी के दिनों में लू लगने का भय सबसे अधिक होता है. लेकिन यदि प्रतिदिन बेल का शरबत बनाकर पिया जाए तो लू लगने की समस्या दूर रहती है. यदि लू लग जाए तब भी बेल का शरबत पीना लाभदायक होता है.

3 .गर्मी के दिनों में शरीर में गर्मी अधिक बढ़ जाने के कारण आंव, दस्त जैसी समस्याएं होना आम हो जाती है. इससे छुटकारा पाने के लिए प्रतिदिन  कच्चे-पक्के बेल का सेवन करें या फिर बेल का शरबत पिएं. इससे डायरिया में भी लाभ होता है.

4 .यदि पाचन संबंधी समस्याएं हो जाए तो पके हुए बेल का सेवन करना फायदेमंद होता है. बेल का शरबत पीने से पेट साफ रहता है. यह पाचक होने के साथ-साथ बलवर्धक है. इसके सेवन से वात, कफ संबंधी समस्याएं भी दूर हो जाती है. गर्मियों में गर्भवती महिलाओं का जी मिचलाने लगे तो बेल और सोठ का काढ़ा बनाकर दो चम्मच पीना लाभदायक होता है.

5 .बेल का मुरब्बा शरीर को शक्ति प्रदान करता है. कमजोरी की समस्या से परेशान है तो बेल का मुरब्बा खाना लाभदायक है यह पेट संबंधी समस्याओं में तो फायदेमंद है ही बेल के गुद्दे को खांड के साथ खाने से आंत संबंधी समस्याओं से भी राहत मिलती है.

6 .बेल के पके फल को शहद और मिश्री के साथ चाटने से शरीर के खून का रंग साफ होता है और खून में भी बढ़ोतरी होती है. वहीं इसके गुद्दे में काली मिर्च और सेंधा नमक मिलाकर खाने गला साफ रहता है जिससे आवाज साफ निकलती है.

2 .गर्मियों में शहतूत खाने के फायदे-

गर्मियों में करें इन 3 फलों का सेवन, रहेंगे चुस्त, दुरुस्त और स्वस्थ

1 .गर्मियों में शहतूत का सेवन प्राकृतिक सेहत का खजाना माना जाता है. यह स्वादिष्ट होने के साथ-साथ शरीर को ठंडक पहुंचाता है. इसमें पोटेशियम, विटामिन सी और फास्फोरस प्रचुर मात्रा में पाया जाता है.

अम्हौरी ( घमौरी ) होने के कारण, लक्षण और शर्तिया आयुर्वेदिक एवं घरेलू उपाय

2 .शहतूत गर्मी के दिनों में नियमित सेवन किया जाए तो लू लगने का डर काफी कम हो जाता है. इसके लिए हर्बल एक्सपर्ट गर्मी में शहतूत के रस में चीनी मिलाकर पीने की सलाह देते हैं इसकी तासीर ठंडी होती है जिससे गर्मी में होने वाले लू बचा जा सकता है.

3 .अक्सर गर्मियों में आंखों से जुड़ी समस्याएं भी होने लगती है. लेकिन शहतूत के जूस का सेवन नियमित किया जाए तो आंखों के लिए काफी लाभदायक होता है क्योंकि इसके सेवन से शरीर को ठंडक मिलती है जिससे आंखें लाल होने जैसी समस्याएं दूर रहती है.

4 .गर्मियों में प्यास अधिक लगती है ऐसे में शहतूत खाने से प्यास शांत हो जाती है. यदि आप तपती धूप में चल रहे हैं और प्यास लग जाए तो शहतूत खाने से कम हो जाती है. लेकिन यदि आप सुबह शहतूत का शरबत बनाकर एक गिलास पी लेते हैं तो दिन भर शायद ही आपको प्यास परेशान कर दे.

5 .शहतूत के सेवन से खून से जुड़ी सभी समस्याएं दूर रहती है. शहतूत, अंगूर और गुलाब की पंखुड़ियों से बने शरबत चीनी मिलाकर पीने से खून साफ होता है. जिससे गर्मियों में निकलने वाले कील- मुंहासे, फोड़े- फुंसियां भी दूर रहती है.

6 .शहतूत का सेवन दिल के रोगियों के लिए भी फायदेमंद होता है. प्रतिदिन सुबह इसका जूस पीने से दिल स्वस्थ रखता है साथ ही यह रक्तचाप को भी नियंत्रित रखता है.

3 .गर्मियों में तेंदू फल के फायदे-

गर्मियों में करें इन 3 फलों का सेवन, रहेंगे चुस्त, दुरुस्त और स्वस्थ

1 .तेंदू के कच्चे फल का सेवन करने से पाचन तंत्र मजबूत होता है और भोजन अच्छे से पचता है. गर्मी के दिनों में अक्सर पाचन से जुड़ी समस्याएं होती रहती है. इसलिए तेंदू फल का सेवन करना गर्मियों में लाभदायक होता है.

2 .तेंदू फल में एंटीऑक्सीडेंट और एंटी डायबिटीक गुण भी पाए जाते हैं जो रक्त में मौजूद शुगर के स्तर को कम कर उसे सामान्य में रखने में मददगार होते हैं. साथ ही मधुमेह से बचाव करने में भी मददगार होते हैं.

3 .तेंदू फल एंटी इन्फ्लेमेटरी गुण से भरपूर होते हैं जो शारीरिक सूजन को कम करने में मददगार होते हैं. इसके लिए तेंदू फल को भी पीसकर सुजन वाले स्थान पर लगावें. सूजन कम करने में मदद करेगा.

4 .तेंदू फल की तासीर ठंडी होने के कारण यह आंखों को ठंडाई देता है. तेंदू फल शरीर के अंदर शीतलता प्रदान करता है. गर्मियों के दिनों में आंखों में दर्द, आंखों का लाल होना, बेवजह आंसू आना जैसी समस्याएं होती रहती है यदि नियमित तेंदू फल का सेवन किया जाए इन समस्याओं से बचाव करने में मदद मिलती है.

5 .आमतौर पर देखा जाता है कि गर्मियों में पेट खराब रहने की वजह से मुंह में बार-बार छाले पड़ जाते हैं. जिससे खाना खाने में बड़ी तकलीफ होती है. ऐसे में तेंदू फल का जूस बनाकर फिर उसके जूस से गरारे कर सकते हैं. इससे छाले ठीक हो जाते हैं.

6 .अक्सर गर्मियों में तेज धूप और प्रदूषण के कारण हमारे चेहरे की रंगत खोने लगती है. लेकिन तेंदू का इस्तेमाल करने से चेहरे पर अलग ही चमक आ जाती है. इसके लिए तेंदू के फल को पिस कर रात को सोने से पहले चेहरे पर लेप करें और थोड़ी देर बाद चेहरा धो लें. ऐसा करने से मुख से रंग तथा कांति में वृद्धि होती है.

7 .गर्मियों में तेंदू फल का जूस पीने या फल खाने से लू लगने का खतरा काफी कम हो जाता है क्योंकि यह शरीर को थंधक प्रदान करता है. इसलिए गर्मियों में प्रतिदिन सुबह तेंदू फल खाने की सलाह दी जाती है.

नोट- यह लेख शैक्षणिक उद्देश्य से लिखा गया है. अधिक जानकारी के लिए योग्य डाइटिशियन की सलाह लें. धन्यवाद.

ayurvedgyansagar.com पर पढ़ें-

 

Share on:

मैं आयुर्वेद चिकित्सक हूँ और जड़ी-बूटियों (आयुर्वेद) रस, भस्मों द्वारा लकवा, सायटिका, गठिया, खूनी एवं वादी बवासीर, चर्म रोग, गुप्त रोग आदि रोगों का इलाज करता हूँ।

Leave a Comment