आप और आपके पार्टनर दोनों के लिए फायदेमंद है अंजीर, प्रजनन क्षमता को बनाता है बेहतर

हेल्थ डेस्क- सूखे मेवे का सेवन करना सेहत के लिए काफी लाभदायक होता है. साथ ही सूखे मेवे का इस्तेमाल कई व्यंजनों को स्वादिष्ट बनाने के लिए भी किया जाता है. उन्हीं सूखे मेवों में से एक है अंजीर, जिसका सेवन करना पुरुष ही नहीं बल्कि महिलाओं के लिए लाभदायक होता है.

इस लेख के माध्यम से आज हम सूखे मेवे अंजीर के बारे में बात करेंगे अंजीर ना सिर्फ आपके लिए फायदेमंद है बल्कि आपके पार्टनर के लिए भी काफी लाभदायक है और यह हेल्दी फ्रूट भी है.

आपको बताते चलें कि अंजीर ग्लूकोज, घुलनशील फाइबर और बहुत सारे खनिजों का एक बेहतर और प्राकृतिक स्रोत है. एक खनिज जो हम सभी के लिए बहुत महत्वपूर्ण है. खास तौर पर महिलाओं के लिए वह है आयरन. ताजा और सूखे दोनों तरह के अंजीर में आयरन प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं. अंजीर पोटैशियम, मैग्निशियम, कैलशियम, तांबा, एंटीऑक्सीडेंट जैसे विटामिन ए और विटामिन एल जैसे पोषक तत्वों का बेहतर स्रोत है जो महिला व पुरुष दोनों के स्वास्थ्य में योगदान कर सकता है.

तो चलिए जानते हैं अंजीर के फायदे-

कब्ज से दिलाता है राहत-

आप और आपके पार्टनर दोनों के लिए फायदेमंद है अंजीर, प्रजनन क्षमता को बनाता है बेहतर
आप और आपके पार्टनर दोनों के लिए फायदेमंद है अंजीर, प्रजनन क्षमता को बनाता है बेहतर

आज के समय में कब्ज एक आम समस्या हो गई है. जिससे ज्यादातर लोग परेशान रहते हैं. अंजीर कब्ज को ठीक करने के लिए सदियों से इस्तेमाल किया जाता रहा है. माना जाता है कि यह आंतों को पोषण प्रदान करता है. अंजीर में मौजूद घुलनशील फाइबर के कारण यह प्राकृतिक रेचक के रूप में काम करता है. जिसके कारण कब्ज से राहत मिलती है. खाली पेट दो से तीन सूखे अंजीर खाने से पेट से जुड़ी समस्याएं दूर रहती है.

वजन घटाने में करता है मदद-

आप और आपके पार्टनर दोनों के लिए फायदेमंद है अंजीर, प्रजनन क्षमता को बनाता है बेहतर
आप और आपके पार्टनर दोनों के लिए फायदेमंद है अंजीर, प्रजनन क्षमता को बनाता है बेहतर

आज के समय में मोटापा से काफी लोग परेशान हैं. मोटापा के कारण कई तरह की बीमारियां होने की संभावना अधिक हो जाती है लेकिन आपको बता दें कि फाइबर से भरपूर अंजीर का सेवन विशेष रूप से वजन को कम करने के लिए आदर्श नाश्ता हो सकता है. सूखे अंजीर एक बेहतरीन पौष्टिक नाश्ता है. 2-3 सूखे अंजीर आपको लंबे समय तक पेट भरा हुआ महसूस करा सकता है और यह आपके दो भोजन के बीच लंबे अंतराल को बनाए रखने में मदद कर सकता है.

रक्तचाप को करता है नियंत्रित-

आप और आपके पार्टनर दोनों के लिए फायदेमंद है अंजीर, प्रजनन क्षमता को बनाता है बेहतर

आजकल महिला हो या पुरुष व्यस्त रहने के कारण फास्ट फूड का चलन दिन-ब-दिन बढ़ता ही जा रहा है. जिसके कारण उच्च रक्तचाप की समस्या आम होती जा रही है. उच्च रक्तचाप अक्सर आपके शरीर में पोटेशियम के स्तर के असंतुलन के कारण होता है. अंजीर पोटेशियम का बेहतर स्रोत होने के कारण स्वाभाविक रूप से पोटेशियम के स्तर में सुधार कर सकता है और इस प्रकार आपके रक्तचाप को नियंत्रित कर आपको स्वस्थ रख सकता है.

पाचन के लिए है मददगार-

अंजीर प्रीबायोटिक्स का एक बेहतर स्रोत होता है. प्रीबायोटिक्स के कार्य का समर्थन कर सकते हैं जो पाचन प्रक्रिया और समग्र आंत स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में मदद कर सकते हैं. फाइबर से भरपूर अंजीर मल में भारी मात्रा में वृद्धि होती है जिसमें सामान्य मल त्याग होता है.

प्रजनन क्षमता को बनाता है बेहतर-

आप और आपके पार्टनर दोनों के लिए फायदेमंद है अंजीर, प्रजनन क्षमता को बनाता है बेहतर
आप और आपके पार्टनर दोनों के लिए फायदेमंद है अंजीर, प्रजनन क्षमता को बनाता है बेहतर

प्राचीन ग्रीक काल से ही अंजीर को प्रेम का फल माना जाता रहा है. अंजीर को उर्वरता का प्रतीक भी माना जाता है. इस पर हुए शोध में यह बात सामने आई है कि अंजीर में मौजूद आयरन के कारण यह महिलाओं में ओव्यूलेशन की पूरी प्रक्रिया में लाभदायक होता है. पुरुषों के लिए कम आयरन शुक्राणु की गुणवत्ता और गतिशीलता को प्रभावित कर सकता है. प्रजनन स्वास्थ्य को बढ़ावा देने के लिए दूध के साथ अंजीर का सेवन करना लाभदायक होता है. 4-5 अंजीर खाकर ऊपर से दूध पीना अत्यंत ही शक्तिवर्धक होने के साथ ही वीर्य वर्धक भी होता है.

ह्रदय स्वास्थ्य के लिए है लाभदायक-

फाइबर और पोटेशियम में रिच होने से शरीर से अतिरिक्त वसा और हृदय पर आने वाले दबाव को दूर करने में मदद मिलती है. यह आपके दिल के स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में काफी मददगार होता है. इन दो कार्यो के साथ अंजीर एंटीऑक्सीडेंट का भी अच्छा स्रोत होता है जो ट्राइग्लिसराइड और खराब कोलेस्ट्रोल को कम करने में भी सहायक होता है इसलिए अंजीर खाकर आप अपने दिल को स्वस्थ रख सकते हैं.

खून के विकार को करता है दूर-

खून की खराबी होने पर सूखे अंजीर को दूध एवं मिश्री के साथ लगातार कुछ दिनों तक सेवन करने से खून के विकार नष्ट हो जाते हैं.

नोट- यह लेख शैक्षणिक उद्देश्य से लिखा गया है, अधिक जानकारी के लिए योग्य डाइटिशियन की सलाह लें. धन्यवाद.

इसे भी पढ़ें-

Share on:

मैं आयुर्वेद चिकित्सक हूँ और जड़ी-बूटियों (आयुर्वेद) रस, भस्मों द्वारा लकवा, सायटिका, गठिया, खूनी एवं वादी बवासीर, चर्म रोग, गुप्त रोग आदि रोगों का इलाज करता हूँ।

Leave a Comment