जानिए- घबराहट ( बेचैनी ) होने के कारण, लक्षण और घरेलू उपाय

हेल्थ डेस्क- आजकल घबराहट ( बेचैनी ) के मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है. इसका सीधा संबंध मनुष्य के मन एवं भावनाओं से होता है लेकिन कई बार स्वास्थ्य कारणों से भी घबराहट होने की समस्या हो जाती है. आज हम आपको इस लेख के माध्यम से घबराहट होने के कारण, लक्षण एवं दूर करने के घरेलू उपाय बताएंगे.

घबराहट क्या है ? What is anxiety?

घबराहट का मतलब होता है किसी बात के होने या होने की संभावना को लेकर डरा हुआ और परेशानी महसूस करना. एक घबराया हुआ व्यक्ति तनाव में रहता है और आसानी से चिंतित हो जाता है. कुछ लोगों में तो घबराहट इतनी ज्यादा हो जाती है कि वह ठीक तरह से सोचने- समझने और काम करने की हालत में भी नहीं रहते हैं. जबकि उस परिस्थिति में समझदारी और सूझबूझ से काम लेने की आवश्यकता होती है. हम सभी लोगों को कभी न कभी घबराहट होती है लेकिन कुछ लोग हमेशा ही घबराए हुए रहते हैं. इस स्थिति में व्यक्ति आराम नहीं कर पाता है और उसका दिल सामान्य से तेज गति से धड़कने लगता है. इससे आपके काम, रिश्तो और नींद पर प्रभाव पड़ता है.

जानिए- घबराहट ( बेचैनी ) होने के कारण, लक्षण और घरेलू उपाय
जानिए- घबराहट ( बेचैनी ) होने के कारण, लक्षण और घरेलू उपाय

घबराहट होने के कारण क्या है ? What is the cause of anxiety?

वैसे तो सामान्य बेचैनी या घबराहट कई लोगों को होती है. लेकिन यह समस्या का सामना आपको प्रतिदिन करना पड़े तो इसको गंभीरता से लेना चाहिए. क्योंकि यह समस्या मानसिक स्वास्थ्य को भी प्रभावित कर सकती है. घबराहट कई कारण से हो सकती है जैसे-

1 .अधिक तनाव में रहना और जीवन में बीते हुए खराब समय को याद करना.

2 .अधिक मात्रा में कैफीन युक्त पदार्थ, अल्कोहल या मीठे पेय पदार्थ पीने से भी घबराहट हो सकती है.

3 .थायराइड की समस्या और हार्मोन के असंतुलन के कारण भी व्यक्ति को घबराहट हो सकती है.

4 .अगर परिवार में किसी व्यक्ति को मानसिक समस्या है तो अनुवांशिक कारणों से भी घबराहट और बेचैनी की समस्या हो सकती है.

5 .काम का दबाव, परीक्षा या इंटरव्यू का डर तथा आत्मविश्वास की कमी के कारण भी घबराहट की समस्या हो सकती है.

6 .एक स्टडी में पाया गया है कि पुरुषों की अपेक्षा महिलाओं को घबराहट और बेचैनी की समस्या अधिक होती है.

7 .लंबे समय तक दवाओं का सेवन करने वाले भी घबराहट के शिकार हो सकते हैं.

जानिए- घबराहट ( बेचैनी ) होने के कारण, लक्षण और घरेलू उपाय
जानिए- घबराहट ( बेचैनी ) होने के कारण, लक्षण और घरेलू उपाय

घबराहट होने के लक्षण क्या है ? What are the symptoms of anxiety?

1 .कमजोरी और थकान महसूस करना.

2 .नींद नहीं आना तथा नींद  से बार-बार उठना.

3 .शरीर में कपकपी होना और पसीना अधिक आना.

4 .पाचन क्रिया का खराब होना.

5 .बार-बार दिमाग में किसी खतरे की आशंका बने रहना या डर पैदा होना.

6 .हृदय गति का सामान्य से अधिक धड़कना.

7 .किसी भी जगह या काम में ध्यान केंद्रित करने में कठिनाई होना.

8 .अधिक गुस्सा आना और सीने में भारीपन जैसा महसूस करना.

9 .कुछ लोगों को सांस लेने में परेशानी होती है.

10 .बहुत कम होता है लेकिन कुछ लोगों को झटके लगने जैसे महसूस होते हैं.

11 .कुछ लोगों को अचानक ठंड है या गर्मी लगने की शिकायत होती है.

घबराहट दूर करने के घरेलू उपाय- Home remedies to get rid of anxiety

1 .घबराहट या बेचैनी से पीड़ित लोगों को सुबह-शाम खुली हवा में टहलना चाहिए.

2 .मेडिटेशन या योगा घबराहट अथवा बेचैनी का अच्छा उपाय है.

3 .अपनी श्वास की गति पर नियंत्रित करने की कोशिश करें, धीरे-धीरे सांस लें.

4 .तनाव बढ़ाने वाली बातों से ध्यान को हटाने के लिए दूसरे कामों में व्यस्त हो जाएं.

5 .पर्याप्त नींद न होने के कारण भी घबराहट होती है. घबराहट या बेचैनी की शिकायत होने पर 8 घंटे की पूरी नींद लें. अपना पसंदीदा संगीत सुनें. संगीत हमेशा स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होता है.

6 .निकोटीन और सिगरेट ये दोनों ही घबराहट के कारण होते हैं. सिगरेट एवं तंबाकू का त्याग कर दें.

7 .थायराइड होने पर घबराहट की समस्या हो सकती है इसलिए थायराइड की जांच कराएं.

8 .रक्तचाप असामान्य होने की स्थिति में घबराहट होती है इसलिए रक्तचाप की जांच कराएं.

9 .घबराहट या बेचैनी की स्थिति में मांसाहारी भोजन का त्याग कर दें.

10 .एक कस्टडी में पाया गया है कि लैवेंडर आयल की खुशबू से घबराहट दूर होती है. अगर किसी को भी घबराहट होने लगे तो लैवेंडर आयल सूंघना चाहिए. इसमें एंटी एंजायटी गुण पाए जाते हैं जो दवा की तरह काम करता है.

11 .ओमेगा 3 फैटी एसिड का सेवन घबराहट की समस्या से राहत देता है. 1 से 3 ग्राम ओमेगा 3 फैटी एसिड का सेवन करें इससे घबराहट की समस्या से छुटकारा मिलेगा तथा ओमेगा 3 फैटी एसिड युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन करें जैसे- अखरोट, सालमन मछली इत्यादि.

12 .गुनगुने पानी में इप्सोम साल्ट मिलाकर नहाने से घबराहट की समस्या दूर होती है. यह शरीर के तापमान को बढ़ाता है और मस्तिष्क को शांत करने में मदद करता है.

13 .घबराहट और बेचैनी होने पर मेडिटेशन करना चाहिए, क्योंकि जब भी आप आंख बंद करके मेडिटेशन करते हैं तब नासिका के माध्यम से फेफड़ों में शुद्ध वायु पहुंचती है जिससे आपका चिंता और तनाव दूर होता है और दिमाग को शांति मिलती है.

14 .जिसे भी घबराहट की समस्या है उन्हें हमेशा खुद पर आत्मविश्वास रखना चाहिए और हमेशा सकारात्मक सोच रखनी चाहिए. जिससे आपकी घबराहट दूर हो जाएगी.

नोट- यह लेख शैक्षणिक उद्देश्य से लिखा गया है. किसी बीमारी के इलाज का विकल्प नहीं है. अतः घबराहट महसूस करने पर डॉक्टरी सलाह लें. धन्यवाद.

Share on:

मैं आयुर्वेद चिकित्सक हूँ और जड़ी-बूटियों (आयुर्वेद) रस, भस्मों द्वारा लकवा, सायटिका, गठिया, खूनी एवं वादी बवासीर, चर्म रोग, गुप्त रोग आदि रोगों का इलाज करता हूँ।

Leave a Comment