सेक्स पावर कैसे बढ़ाएं ? How to increase sex power?

हेल्थ डेस्क- शादी के बाद विशेषकर सबसे ज्यादा जरूरी हो जाता है यौन कमजोरियों से खुद को बचाए रखना, शरीर को मजबूत बनाए रखना और शारीरिक कमजोरी को दूर रखना यह सबसे ज्यादा जरूरी हो जाता है. जब यौन कमजोरी आ जाती है तब पति- पत्नी के बीच संबंध में तनाव आ जाते हैं और पारिवारिक संबंध बिगड़ने की संभावना अधिक हो जाती है. आज हम इस लेख में यौन कमजोरी को हमेशा के लिए कैसे दूर रख सकते हैं ? यौन कमजोरी होने के कारण, लक्षण और बढ़ाने के उपाय के बारे में बात करेंगे.

सेक्स पावर कैसे बढ़ाएं  How to increase sex power
सेक्स पावर कैसे बढ़ाएं How to increase sex power

सबसे पहले आपको यह देखना आवश्यक है कि सेक्स से जुड़ी समस्याएं क्या आपको शीघ्रपतन की समस्या है, नपुंसकता है, स्वप्नदोष हो जाता है, वीर्य का पतलापन है या लिंग में तनाव नहीं आता है. सेक्स करने से पहले आप स्वखालित हो जाते हैं, लिंग ढीला ढाला है, लिंग की कमजोरी है, क्या आपका लिंग छोटा है. लिंग की नसों की कमजोरी के कारण लिंग में तनाव नहीं आता है या फिर धात गिरने की समस्या इन पर आपको विशेष ध्यान रखना चाहिए. उसी समस्याओं के अनुसार आपका इलाज किया जा सकता है.

सेक्स पावर कम होने के क्या कारण हैं ?

सेक्स लाइफ हमारी मानसिक सेहत के लिए बहुत आवश्यक है. अक्सर जोड़े कम सेक्स ड्राइव के बारे में शिकायत करते हैं जो उनकी शादी में समस्या पैदा कर सकता है. सेक्स ड्राइव कम होने के कारण लोगों को इन कारणों का पता नहीं चलता है. आइए जानते हैं कि सेक्स पावर और सेक्स ड्राइव कम होने के क्या कारण है ?

1 .दवाओं का सेवन-

अनुचित दवाओं का सेवन करना भी सेक्स लाइफ को प्रभावित करता है. हम अक्सर विभिन्न बीमारियों के इलाज के लिए दवाओं का सेवन करते हैं. लेकिन हम भूल जाते हैं कि कभी- कभी इन दवाओं के दुष्प्रभाव हो सकते हैं. कुछ ऐसी दवा है जो सेक्स हार्मोन की समस्या का कारण बनती है और सेक्स पावर में कमी लाती है.

2 .तनाव में रहना-

आजकल ज्यादातर लोग तनाव भरी जिंदगी जी रहे हैं. जिसका प्रभाव उनके सेक्स लाइफ पर भी पड़ता है क्योंकि तनाव प्रतिक्रिया कोर्टिसोल और एपिनेफ्रिन जैसे हार्मोन जारी कर सकती है जो उच्च स्तर पर सेक्स ड्राइव को कम कर सकती है. जब तनाव पुराना हो जाता है तो कोर्टिसोल के स्तर में बदलाव सेक्स हार्मोन को प्रभावित कर सकता है जिससे आपकी सेक्स रुचि घट जाती है.

3 .गलत जानकारी-

कई बार ऐसा होता है जब हमें सेक्स के बारे में गलत जानकारी होती है क्योंकि हमारे पास गलत जानकारी है इसलिए सेक्स पावर कम हो जाती है और कपल्स का सेक्स करने का मन नहीं करता है.

4 .शीघ्रपतन-

यदि आप शीघ्र पतन की समस्या का सामना करते हैं तो सेक्स की इच्छा कम हो सकती है. यदि आप सेक्स के दौरान चिंतित या तनाव ग्रस्त हैं तो पुरुष शीघ्रपतन की समस्या का सामना कर सकते हैं.

5 .बढ़ती उम्र-

बढ़ती उम्र के साथ टेस्टोस्टेरोन का स्तर भी कम हो जाता है इससे सेक्स ड्राइव और कम हो सकती है और इसलिए कम हो जाती है. 40 वर्ष की उम्र के बाद हालांकि पुरुषों में कामेच्छा ध्यान देने योग्य हो सकती है क्योंकि टेस्टोस्टेरोन का स्तर कम हो जाता है.

6 .लंबी बीमारी-

लंबी बीमारी सेक्स पावर को कम करने के लिए जिम्मेदार है. अस्थमा, डायबिटीज, ब्लडप्रेशर, थायराइड जैसी लंबी बीमारी सेक्स के असर को कम कर सकती है. यह बदले में सेक्स को कम करने और सेक्स पावर में कमी का कारण बन सकता है. लंबे समय तक बीमारी शारीरिक तनाव का कारण बन सकती है जो एक सेक्स पावर है.

सेक्स पावर कम होने के लक्षण क्या है ?

  • सेक्स पावर कम होने के कुछ लक्षण है जो इस प्रकार हैं-
  • सेक्स उत्तेजना ना होना.
  • सेक्स के दौरान कोई संतुष्टि नहीं मिल पाना.
  • लिबिडो में कमी.
  • सेक्स के दौरान जल्द वीर्य का स्वखलन हो जाना.
  • यौन प्रदर्शन में कमी होना.

सेक्स पावर बढ़ाने के उपाय-

1 .सेक्स पावर बढ़ाने के लिए सबसे पहले आपको हेल्दी खाना खाना चाहिए. इसका मतलब यह है कि आपको कम और गर्म मिर्ची मसालों का सेवन करना चाहिए. जितना कम आप गर्म चीजें खाएंगे इतनी जल्दी आप को सेक्स से जुड़ी समस्याएं नहीं होगी. स्वप्नदोष से बचने के लिए गर्म चीज का सेवन छोड़ देना चाहिए. जब कभी भी अगर आपको सेक्स से जुड़ी समस्याएं हो जाती है उस समय आपको नियमित तौर पर हेल्दी भोजन ही करना चाहिए.

2 .हल्का भोजन करना चाहिए. जिससे आपका पेट नियमित तौर पर साफ होता रहे और दूध का बहुत अधिक इस्तेमाल करना चाहिए. आप दूध में कुछ मखाने डालकर भी पी सकते हैं जिससे आपका वीर्य गाढ़ा रहता है.

3 .आपको दूध में छुहारे और मखाने डालकर पीना चाहिए. आप नियमित तौर पर इसका सेवन करके 1-2 महीने में ही सेक्स पावर को 4 गुना तक बढ़ा सकते हैं यह 100% पावरफुल फार्मूला है.

4 .दूध और छुहारे एवं मखाने का सेवन करने से सेक्स पावर 4 गुना तक बढ़ जाती है. सेक्स पावर 4 गुना बढ़ जाने से आपको शीघ्रपतन, नपुंसकता, शारीरिक कमजोरी, वीर्य का पतलापन से छुटकारा मिल जाता है और सेक्स करते समय आपको अति आनंद आता है. यह सेक्स पावर बढ़ाने का सबसे अच्छा उपाय है.

5 .सेक्स पावर बढ़ाने के लिए शिलाजीत का सेवन करना काफी लाभदायक होता है क्योंकि शिलाजीत एक शक्तिवर्धक और वीर्य वर्धक औषधि है. इसके सेवन से यौन शक्ति बढ़ती है. शिलाजीत की तासीर गर्म होती है इसलिए इसका अधिक मात्रा में सेवन करने से भी बचना चाहिए. शारीरिक ताकत में कमी महसूस हो तो इसका का सेवन करें. इसे लंबे समय से पुरुषों के सेक्स पावर बढ़ाने के लिए इस्तेमाल किया जाता रहा है. इसके चूर्ण के सेवन से लो सेक्स ड्राइव और पुरुषों की समस्याएं दूर होती है. रात में सोने से पहले एक गिलास दूध में शिलाजीत के चूर्ण को अच्छी तरह से मिलाए और इस दूध को पी लें.

6 .सेक्स से जुड़ी समस्याओं को दूर करने के लिए सफेद मूसली काफी प्रचलित जड़ी- बूटियों में से एक है यह यौन समस्याओं के लिए लाभदायक माना जाता है. पुरुषों की समस्याओं का रामबाण इलाज है. कई तरह की समस्याओं को दूर करता है. पुरुषों की समस्याओं के लिए एक शक्तिशाली और कामोत्तेजक आयुर्वेदिक जड़ी -बूटी है आयुर्वेद में सफेद मुसली पाउडर का उपयोग किया जाता है. पुरुष स्तंभन दोष, रात का उत्सर्जन आदि के उपचार में उपयोगी मानी जाती है. यह सेक्स ड्राइव को बढ़ाता है इतना ही नहीं प्रीमेच्योर इजेकुलेशन, इरेक्टाइल डिस्फंक्शन, नपुंसकता, पुरूषों में बांझपन की समस्या आदि को दूर करती है.

7 .कौंच के बीज को सेक्स से संबंधित समस्याओं को दूर करने के लिए आयुर्वेद में सदियों से इस्तेमाल किया जाता रहा है. इसे सेक्स पावर बढ़ाने के लिए अच्छी औषधि मानी जाती है. इसका आप कुछ दिनों तक इस्तेमाल करेंगे तो कमजोरी, नामर्दी, ढीलापन और शीघ्रपतन जैसी समस्याएं बहुत जल्दी दूर हो जाएगी व पुरुष बांझपन की समस्या से परेशान हैं उन्हें इसका सेवन करना चाहिए.

कौंच बीज को कामोद्दीपक औषधि कहा गया है. शुक्राणुओं से लेकर पार्किंसन रोग तक के इलाज के लिए कौंच बीज का उपयोग आयुर्वेद में सदियों से किया जाता है. कौंच के बीजों से तैयार किए गए पाउडर को दूध के साथ उबालकर सेवन किया जाता है. सेक्स की शुरुआत करते ही थकान महसूस हो या फिर यौन इच्छा में कमी हो तो इसका इस्तेमाल करना काफी लाभदायक होता है.

नोट- यह लेख शैक्षणिक उद्देश्य से लिखा गया है. किसी भी प्रयोग से पहले योग्य चिकित्सक की सलाह जरूर लें और लेख पसंद आई हो तो शेयर जरुर करें. धन्यवाद.

Share on:

मैं आयुर्वेद चिकित्सक हूँ और जड़ी-बूटियों (आयुर्वेद) रस, भस्मों द्वारा लकवा, सायटिका, गठिया, खूनी एवं वादी बवासीर, चर्म रोग, गुप्त रोग आदि रोगों का इलाज करता हूँ।

Leave a Comment