दूध- दही नहीं खाते हैं तो शरीर में कैल्शियम की पूर्ति के लिए करें इन चीजों का सेवन

हेल्थ डेस्क- शरीर को स्वस्थ रहने के लिए हमारे शरीर को कुछ विटामिंस की आवश्यकता होती है. जैसे- विटामिन ए, बी, सी, के, आयरन, जिंक, प्रोटीन इत्यादि इसके साथ ही हमारे शरीर के हड्डियों को मजबूत रहने के लिए कैल्शियम की आवश्यकता होती है जो दूध, दही, डेयरी प्रोडक्ट में प्रचुर मात्रा में पाया जाता है. लेकिन बहुत से ऐसे लोग हैं जो दूध- दही खाना पसंद नहीं करते हैं.

शरीर में एनर्जी बनाये रखने और हड्डियों और दातों को मजबूत बनाने के लिए हमारे शरीर में उचित मात्रा में कैल्सियम का होना जरुरी होता है. आपको बता दें कि सिर्फ हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए ही कैल्सियम की जरुरत नही होती है बल्कि ब्लडप्रेशर को भी नियंत्रित रखता है और रक्तवाहिकाओं को स्वस्थ रखता है. कैल्सियम मधुमेह जैसी घटक बिमारियों से भी बचाव करने में मदद करता है.

अक्सर आपने सुना होगा कि दूध पीने से हड्डियां मजबूत होती है क्योंकि डेयरी प्रोडक्ट में काफी मात्रा में कैल्शियम पाया जाता है जिनसे हड्डियों को मजबूती मिलती है. लेकिन जो लोग दूध- दही, पनीर का सेवन करना पसंद नहीं करते हैं उन्हें अन्य चीजों से कैल्शियम प्राप्त करना चाहिए ताकि उनकी हड्डियां मजबूत बना रहे.

आज हम आपको कुछ ऐसे चीजों के बारे में बताने जा रहे हैं जिसमें कैल्शियम की भरपूर मात्रा पाई जाती है जिसका सेवन कर आप शरीर में कैल्शियम की कमी को पूर्ति कर सकते हैं?

नकसीर ( नाक से खून आना ) होने के कारण, लक्षण और घरेलू एवं आयुर्वेदिक उपचार 

1 . करें आंवला का सेवन- 

आंवले में प्रचुर मात्रा में कैल्शियम पाया जाता है. इसके अलावा इसमें एंटीऑक्सीडेंट भी प्रचुर मात्रा में होते हैं जो शरीर को इंफेक्शन से बचाते हैं. इसके सेवन से रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत होती है. इसका सेवन जूस और पाउडर के रूप में कर सकते हैं. इसके अलावा आंवले का अचार, मुरब्बा और इससे बने और डिश का सेवन कर शरीर में कैल्शियम की कमी की पूर्ति कर सकते हैं.

2 .करें तिल का सेवन-

शरीर में कैल्शियम की कमी ना हो इसके लिए आप तिल का भी नियमित रूप से सेवन कर सकते हैं. आपको बता दें कि लगभग एक चम्मच तिल में करीब 88 ग्राम कैल्शियम पाया जाता है. आप इनका इस्तेमाल सूप, सलाद आदि में डालकर कर सकते हैं. इसके अलावे तिल के लड्डू का सेवन कर शरीर में कैल्शियम की कमी को पूरा कर सकते हैं.

3 .करें जीरा का सेवन-

जीरे का इस्तेमाल हर घर में मसाले के रूप में भोजन के स्वाद को बढ़ाने के लिए किया जाता है. लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि यह कई औषधीय गुणों से भरपूर होने के साथ ही शरीर में कैल्शियम की कमी को पूरा करने में मददगार है. इसके लिए आप एक गिलास पानी उबाल लें. अब इसमें आधा चम्मच जीरा पाउडर मिला कर पियें.

4 .करें अदरक की चाय का सेवन-

अदरक का इस्तेमाल भी लगभग सभी घरों में कई डिशों में किया जाता है. लेकिन आपको बता दें कि यह हमारे शरीर में हुई कैल्सियम की कमी को पूर्ति करने में भी मददगार होता है. इसके लिए अदरक का एक छोटा टुकड़ा 2 कप पानी में डालकर उबालें. एक कप पानी रह जाए तो उसमें शहद और हल्का नींबू निचोड़कर चाय की तरह घुट- घुट कर के पी लें. 20 दिन तक नियमित पीने से कैल्शियम की कमी दूर होती है.

5 .करें अंजीर और बादाम का सेवन-

कैल्शियम की कमी को पूर्ति करने में अंजीर और बादाम काफी मददगार है. इसके लिए एक अंजीर और दो बादाम को रात में पानी में भिगोकर रख दें. सुबह खाली पेट चबाकर खा लें और पानी को पी लें. ऐसा करने हमारे शरीर में कैल्शियम प्राप्त होती है.

बाजीकरण चूर्ण बनाने की विधि, उपयोग एवं फायदे 

6 .करें अंकुरित अनाज का सेवन-

अंकुरित अनाज में कैल्शियम प्रचुर मात्रा में होता है, अगर आप नियमित रूप से अपने आहार में अंकुरित अनाज का सेवन करते हैं तो इससे कैल्शियम की कमी को दूर करने में काफी मदद मिलती है.

7 .करें बींस का सेवन-

बींस कैल्शियम का अच्छा स्रोत होता है. आपको बता दें कि एक कप बींस में लगभग 24% कैल्शियम होता है. इसलिए बींस को अपनी डाइट में नियमित शामिल करके कैल्शियम की कमी पूरी कर सकते हैं.

दूध- दही नहीं खाते हैं तो शरीर में कैल्शियम की पूर्ति के लिए करें इन चीजों का सेवन

8 .करें पालक का सेवन-

पालक आयरन का अच्छा स्रोत होने के साथ-साथ कैल्शियम का अच्छा स्रोत होता है. आपको बता दें कि लगभग 100 ग्राम पालक में 99 मिलीमीटर कैल्शियम होता है. शरीर को स्वस्थ रखने के लिए सप्ताह में कम से कम 3 बार पालक का सेवन जरूर करें.

9 .करें भिंडी का सेवन-

भिन्डी भी कैल्शियम का बेहतर स्रोत होता है. आपको बता दें कि एक कटोरी भिंडी में 40 ग्राम कैल्शियम होता है भिंडी को सप्ताह में 2 दिन खाने से दांत खराब नहीं होते हैं और हड्डियाँ भी मजबूत होती है.

10 .करें दलिया का सेवन-

दलिया का सेवन करना सेहत के लिए काफी फायदेमंद होता है. विशेषकर दलिया को नाश्ते के सबसे हेल्दी विकल्पों में से एक माना जाता है क्योंकि दलिया में विटामिन और फाइबर प्रचुर मात्रा में मौजूद होती है. कैल्शियम की बात करें तो दलिया कैल्शियम का एक अच्छा स्रोत होता है. यह कई स्वास्थ्य संबंधी गुणों से भरपूर होता है इसके सेवन से शरीर में कैल्शियम की कमी पूरी होती है.

11 .करें राजमा का सेवन-

राजमा में प्रचुर मात्रा में कैल्शियम पाया जाता है. इतना ही नहीं राजमा बेहतर पाचन और अवशोषण के लिए लाभदायक है. इसके लिए रात को राजमा को रात भर पानी में भिगोकर रखें और सुबह इसका डिश बना कर खाएं.

12 .करें हरी सब्जियों का सेवन-

हरी सब्जियों का सेवन प्रतिदिन करना सेहत के लिए लाभदायक माना जाता है इसलिए प्रतिदिन के आहार में एक चौथाई हिस्से के रूप में हरी सब्जियों का सेवन करना चाहिए. हरी सब्जियों में 268 मिलीग्राम कैल्शियम होता है. इतना ही नहीं हरी सब्जियों में कैल्शियम के अलावा विटामिन ए और विटामिन सी प्रचुर मात्रा में पाया जाता है. हरी सब्जियों का सेवन करना आपको कई तरह की बीमारियों से दूर रख सकता है.

13 .करें संतरा का सेवन-

संतरा विटामिन सी से भरपूर होता है जो स्वास्थ्य के बारे में काफी लाभदायक माना जाता है. लेकिन आपको बता दें कि संतरे में कैल्शियम की मात्रा भी होती है. एक कप संतरे में लगभग 80 मिलीग्राम कैल्शियम होता है. इसका मतलब है कि संतरा आपके शरीर में 8% तक कैल्शियम की कमी को पूरा कर सकता है. वही संतरे का जूस पीना हड्डियों में कैल्शियम का बेहतर अवशोषण करने में मदद करता है.

नोट- यह लेख शैक्षणिक उदेश्य से लिखा गया है अधिक जानकारी के लिए किसी योग्य डाइटिशियन की सलाह लें. धन्यवाद.

Share on:

मैं आयुर्वेद चिकित्सक हूँ और जड़ी-बूटियों (आयुर्वेद) रस, भस्मों द्वारा लकवा, सायटिका, गठिया, खूनी एवं वादी बवासीर, चर्म रोग, गुप्त रोग आदि रोगों का इलाज करता हूँ।

Leave a Comment