इस उम्र में कम हो जाती है मर्दाना ताकत ! जाने बढ़ाने के आसान तरीके और घरेलू उपाय

हेल्थ डेस्क- ज्यादातर लोग मर्दाना ताकत के लिए खराब जीवनशैली और खराब खान-पान को जिम्मेदार मानते हैं. लेकिन इसके पीछे कई और कारण भी होते हैं. हालांकि बहुत से लोग इस बारे में बात करने से हिचकिचाते हैं और अंग्रेजी दवाइयों का उपयोग करते हैं. लेकिन वे इस बात को नहीं जानते हैं कि नियमित रूप से इन दवाओं का सेवन स्वास्थ्य के लिए नुकसानदायक साबित हो सकता है.

मर्दाना ताकत पुरुषों के लिए एक ऐसी समस्या है जिसका ध्यान उन्हें अपने वैवाहिक जीवन में बहुत अच्छी तरह से रखना होता है और यह चीजें उनकी आत्मसंतुष्टि के लिए बहुत आवश्यक होती है. बहुत से लोग मर्दाना ताकत कमजोर होने के कारण खुद को हीन भावना से देखने लगते हैं और यही एक कारण है जो रिश्तो में तनाव उत्पन्न कर देता है.

अक्सर बहुत से लोग मर्दाना ताकत के लिए खराब जीवनशैली और खराब खानपान को जिम्मेदार ठहराते हैं, लेकिन इसके पीछे और कई कारण हो सकते हैं और सबसे बड़ी बात तो यह होती है कि इस बारे में लोग बात करने से भी हिचकिचाते हैं और अंग्रेजी दवा खाना से सेक्स वर्धक दवा खरीद कर उपयोग करते हैं लेकिन इस बात से अनजान है कि अधिक दिनों तक इन दवाओं का सेवन करने से स्वास्थ्य को नुकसान हो सकता है. इन अंग्रेजी दवाओं का लगातार सेवन पुरुष को नपुंसकता की ओर ले जा सकता है.

इस उम्र में कम हो जाती है मर्दाना ताकत !

यदि स्वास्थ्य सही हो और खानपान उचित हो तो 20 से 40 वर्ष की उम्र तक मर्दाना ताकत सही रहता है. लेकिन 40 के बाद मर्दाना ताकत कम हो जाती है जिसे बढ़ाने के लिए इन दवाओं का सेवन किया जाता है. हालांकि इस बात को ध्यान रखना बहुत जरूरी है कि अगर आप 40 की उम्र के बाद अपनी मर्दाना ताकत बढ़ाना चाहते हैं तो यह काम सिर्फ एक दिन में नहीं होगा.

अगर आप सोच रहे हैं कि एक दिन इस काम को करके मर्दाना ताकत को बढ़ाया जा सकता है तो आप गलत है यह कोई एक दिन का काम नहीं है बल्कि आपको लंबे समय तक अपने स्वास्थ्य के प्रति सजग रहना होगा. इस लेख के माध्यम से हम आपको कुछ ऐसे आसान तरीके और घरेलू उपाय बताने जा रहे हैं जिसकी मदद से आप 40 के उम्र के बाद भी मर्दाना ताकत को बढ़ा सकते हैं.

मर्दाना ताकत बढ़ाने के आसान तरीके-

1 .नशा से बनाकर रखें दूरी-

40 के बाद मर्दाना ताकत बढ़ाने के लिए आपको सभी प्रकार के धूम्रपान, शराब इत्यादि से दूर रहना होगा. किसी भी प्रकार का धूम्रपान चाहे वह गुटखा, सिगरेट ही क्यों ना हो आपको इससे दूरी बना कर रखना है क्योंकि इन चीजों का सेवन आपके नसों को अंदर से कमजोर बना देता है और आपकी शक्ति कमजोर होने लगती है इसलिए आप मर्दाना ताकत को बढ़ाना चाहते हैं तो हर तरह के नशे से दूर रहें.

2 .स्वस्थ भोजन करें-

इस उम्र में कम हो जाती है मर्दाना ताकत ! जाने बढ़ाने के आसान तरीके और घरेलू उपाय
इस उम्र में कम हो जाती है मर्दाना ताकत ! जाने बढ़ाने के आसान तरीके और घरेलू उपाय

मर्दाना ताकत बढ़ाने के लिए आपको संतुलित व स्वस्थ भोजन करना चाहिए. इसके अलावा आपको ज्यादा मात्रा में पानी पीना चाहिए. क्योंकि यह शरीर से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने का काम करता है. इसके अलावा आपको अपने आहार में सभी प्रकार के मौसमी फलों और सब्जियों को शामिल करना होगा. मर्दाना ताकत कमजोर करने वाले आहार जैसे प्रोसैस्ड फूड, जंक फूड आदि से दूरी बनाना होगा.

3 .नियमित करें व्यायाम-

नियमित व्यायाम करते हैं तो आप कई रोगों से तो बच ही सकते हैं साथ ही आपका शरीर स्वस्थ्य और फिट रहेगा. जिसके कारण मर्दाना ताकत बढ़ेगा.

4 .बिना सलाह न करें दवाइयों का सेवन-

अगर आप मर्दाना ताकत बढ़ाने के लिए कोई दवाइयों का सेवन करना चाहते हैं तो आप बिना किसी अनुभवी डॉक्टर से सलाह लिए इनका सेवन न करें.

मर्दाना ताकत बढ़ाने के आसान घरेलू उपाय-

1 .चने का सेवन करें-

चने का सेवन करना सेहत के लिए काफी फायदेमंद होता है. यदि आप यौन से जुड़ी समस्याओं से परेशान हैं तो चने का सेवन करना आपके लिए लाभदायक होगा. अगर आप वीर्य का पतलापन या धातु का कम बनना आदि समस्याओं से जूझ रहे हैं तो आपको चीनी मिट्टी के बर्तन में रात भर चने को भिगोकर रख देना चाहिए. फिर सुबह इन चनों को अच्छी तरह से चबा- चबाकर खाएं और इस बात का ध्यान रखें कि चना आपको उतना ही खाना है जितना आप आसानी से पचा सकते हैं. उसके बाद आप जिस पानी में चने को भिंगोये थे उस पानी को भी ऊपर से पी लेब. इस तरह नियमित कुछ दिनों तक सेवन करने से मर्दाना कमजोरी दूर हो जाएगी

2 .लहसुन का सेवन करें-

मर्दाना कमजोरी दूर करने में लहसुन काफी असरकारी चीज है. इसके लिए प्रतिदिन सुबह खाली पेट लहसुन की दो कलियों को चबाकर और थोड़ा सा पानी पी लें. आप चाहे तो रात को सोने से पहले भी इसका सेवन कर सकते हैं.

4 .आंवले का सेवन करें-

अधिकतर लोग आंवले का सेवन पाचन संबंधी समस्याओं को दूर करने के लिए करते हैं. लेकिन आंवला मर्दाना कमजोरी को दूर करने में काफी मददगार होता है. इसके लिए आंवले को सुखाकर पीसकर पाउडर बना लें और इस पाउडर में उतना ही मात्रा में मिश्री का पाउडर मिलाकर सुरक्षित रख लें. अब इसमें से रात को सोने से पहले एक चम्मच चूर्ण को पानी के साथ सेवन करें. इसके नियमित सेवन करने से मर्दाना कमजोरी दूर होगी. वीर्य का पतलापन दूर हो जाएगा और स्वप्नदोष की समस्या हो तो वह भी दूर हो जाएगा.

5 .केले का सेवन करें-

केले का सेवन करना सेहत के लिए काफी लाभदायक होता है. केला ही एक ऐसा फल है जो शरीर को तुरंत एनर्जी प्रदान करता है. यदि आप मर्दाना कमजोरी की समस्या से परेशान हैं तो प्रतिदिन सुबह खाली पेट एक- दो केले खाकर दूध पी लें या आप बनाना शेक बना कर भी इसका इस्तेमाल कर सकते हैं.

6 .अजवाइन का सेवन-

अजवाइन का इस्तेमाल हर घर में मसाले के रूप में किया जाता है. यदि आप मर्दाना कमजोरी की समस्या से जूझ रहे हैं तो इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए अजवाइन का इस्तेमाल काफी फायदेमंद साबित होगा. इसके लिए 100 ग्राम अजवाइन लें. अब इसे प्याज के रस में भिगोकर धूप में सुखा लें. जब सूख जाए तो इसे फिर से प्याज के रस में भिगोकर सुखाएं. इस तरह तीन- चार बार करने के बाद सुखाकर पीसकर पाउडर बना लें और उतना ही मात्रा में मिश्री का पाउडर मिलाकर सुरक्षित रख लें. अब प्रतिदिन सुबह खाली पेट एक चम्मच की मात्रा में दूध के साथ सेवन करें. ऐसा करने से मर्दाना ताकत में बढ़ोतरी होने लगेगी.

7 .उड़द का सेवन करें-

मर्दाना ताकत को बढ़ाने के लिए उड़द का सेवन रामबाण की तरह कारगर साबित होता है. इसके लिए आप उड़द के लड्डू, उड़द की दाल या उड़द का सेवन कर सकते हैं. इससे धातु में बढ़ोतरी होती है. संभोग शक्ति बढ़ती है. लेकिन यह देर से पचने वाली चीज है इसलिए जिनका पाचन शक्ति कमजोर है उन्हें इसका सेवन कम मात्रा से शुरू करना चाहिए.

8 .दरियाई तालमखाना का सेवन करें-

दरियाई तालमखाना का पौधा धान के खेतों में पाया जाता है. इसके फल तोड़कर इसे जमा किया जा सकता है या फिर आप पंसारी के यहां से भी खरीद सकते हैं. इसका नियमित सेवन करने से धातु के पतलेपन, शीघ्रपतन, स्वप्नदोष, शुक्राणुओं की कमी आदि की समस्या दूर होती है. इसके लिए दरियाई तालमखाना के बीज को पीसकर पाउडर बनाकर सुरक्षित रख लें. अब इसमें से 3 ग्राम की मात्रा में दूध के साथ नियमित सेवन करें. कुछ ही दिनों में मर्दाना ताकत में बढ़ोतरी होगी.

नोट- यह लेख शैक्षणिक उद्देश्य से लिखा गया है. किसी भी प्रयोग से पहले योग्य चिकित्सक की सलाह जरूर लें. धन्यवाद.

Share on:

मैं आयुर्वेद चिकित्सक हूँ और जड़ी-बूटियों (आयुर्वेद) रस, भस्मों द्वारा लकवा, सायटिका, गठिया, खूनी एवं वादी बवासीर, चर्म रोग, गुप्त रोग आदि रोगों का इलाज करता हूँ।

Leave a Comment