मात्र 21 दिनों में 10 किलो तक वजन को कम कर सकता है यह छोटी सी चीज, जाने इस्तेमाल करने का तरीका

हेल्थ डेस्क- आज के समय में मोटापा यानी वजन का बढ़ाना एक आम समस्या बन गई है. इससे महिला हो या पुरुष काफी परेशान रहने लगे हैं. मोटापा यानी वजन को कम करने के लिए लोग तरह-तरह के उपाय ढूंढ रहे होते हैं तो कई लोग डाइट प्लान बनाकर मोटापे को कम करने की कोशिश करते हैं. लेकिन इससे छुटकारा नहीं मिलता है. आज के इस लेख में हम एक ऐसी चीज के बारे में बताने जा रहे हैं जिसका नियमित सेवन किया जाए तो 21 दिनों में लगभग 10 किलो तक वजन को कम किया जा सकता है.

मात्र 21 दिनों में 10 किलो तक वजन को कम कर सकता है यह छोटी सी चीज, जाने इस्तेमाल करने का तरीका
मात्र 21 दिनों में 10 किलो तक वजन को कम कर सकता है यह छोटी सी चीज, जाने इस्तेमाल करने का तरीका

जी हां हम जिस चीज के बारे में बात कर रहे हैं वह है लौंग. लौंग का इस्तेमाल हर किचन में मसाले के रूप में भोजन के स्वाद को बढ़ाने के लिए किया जाता है. आमतौर पर लौंग का इस्तेमाल खाने का तड़का लगाने या चाय का स्वाद बढ़ाने के लिए किया जाता है लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि यह छोटी सी लौंग आपकी मुंह के स्वाद को बढ़ाने के साथ ही कई बीमारियों से बचाने में आपकी मदद कर सकता है.

लौंग में पाए जाने वाले तत्व-

छोटी सी दिखने वाली लौंग कई तत्वों से भरपूर होता है. इसमें आयरन, कैल्शियम, कार्बोहाइड्रेट, फास्फोरस जैसे पोषक तत्वों के अलावा एंटीऑक्सीडेंट, एंटीवायरल और एंटीसेप्टिक गुण मौजूद होते हैं. यही कारण है कि लौंग का इस्तेमाल कई बीमारियों से लड़ने में हमारी मदद करता है.

वजन कम करने के लिए कैसे करें लौंग का इस्तेमाल-

मोटापा यानी वजन को कम करने के लिए लौंग का पानी तैयार करें और पीए. इस पानी को तैयार करना भी बहुत ही आसान है इसके लिए आपको सिर्फ 5 लौंगों को एक गिलास गर्म पानी में रात को डाल कर रखना है और सुबह इसे अच्छी तरह से निचोड़ कर छान लेना है. इसके बाद आराम से बैठकर घुट- घुटकर इस पानी को पीना है. घूट- घूट कर इसलिए क्योंकि पानी पीने का सही तरीका यही है. इस पानी को पीने के साइड इफेक्ट होने का खतरा नहीं है इसलिए इसका सेवन नियमित किया जा सकता है.

वजन को कैसे कम करता है लौंग का पानी-

लौंग वाला पानी पीने से पेट से जुड़ी समस्याएं जैसे पेट में गैस बनना, एसिडिटी, कब्ज की समस्या, पेट दर्द इत्यादि समस्याएं दूर हो जाती है. इसका लगातार सेवन करने से पेट से संबंधित समस्याएं दूर हो जाती है और पाचन तंत्र मजबूत हो जाता है जिससे आपके द्वारा सेवन किए गए आहार का पाचन सही ढंग से होता है और आपके शरीर को उचित पोषण मिलता है जिससे वजन को कम करने में मदद मिलती है.

लौंग का सेवन करने के अन्य फायदे-

1 .शरीर तभी स्वस्थ रहता है जब पाचन शक्ति सही रहती है. पाचन तंत्र भोजन को ऊर्जा में बदल कर शरीर को पोषण और शक्ति प्रदान करता है. पाचन क्रिया कमजोर होने पर पेट से जुड़ी समस्याएं परेशान करती है. नियमित रूप से लौंग का सेवन करने से पाचन एंजाइम के स्त्राव को उत्तेजित कर के पाचन में सुधार करने में मदद करता है. लौंग गैस्टिक, पेट में जलन, अपच और मतली जैसी समस्याओं को भी दूर करता है जो लोग पाचन की समस्या से परेशान रहते हैं उन्हें 1-2 लौंग चबाकर गुनगुना पानी पीना चाहिए.

2 .लौंग का तेल लीवर को भी सुरक्षित रखने में मददगार होता है. लीवर खराब होने पर शरीर की कार्य करने की क्षमता ना के बराबर हो जाती है. अगर लीवर का सही देखभाल करना है तो आप भरपूर पानी पीने के अलावा अपने खान-पान का पूरा ध्यान रखें. लौंग में एंटीऑक्सीडेंट प्रचुर मात्रा में होती है जो लीवर को विशेष रूप से मुक्त कणों के प्रभाव से बचाने के लिए अच्छी होती है. लौंग का अर्क अपने प्रोटो- प्रोटेक्टिव गुणों के कारण इन प्रभाव का सामना करने में मददगार होता है.

3 .लौंग का सेवन पुरुषों के लिए भी फायदेमंद होता है. नियमित लौंग का सेवन करने से यौन स्वास्थ्य में सुधार होता है. लौंग का इस्तेमाल कामोद्दीपक या काम उत्तेजना बढ़ाने के लिए भी आयुर्वेद में किया जाता है.

4 .मधुमेह से बचने के लिए खाने-पीने की आदतों में बदलाव करने के साथ ही लौंग का सेवन लाभदायक होता है. कई रोगों के उपचार में लौंग का इस्तेमाल किया जाता है.

5 .हमारे शरीर को स्वस्थ रहने के लिए इम्यून सिस्टम का मजबूत होना जरूरी है. इम्यून सिस्टम के मजबूत होने से शरीर को कई तरह के रोगों से बचाव किया जा सकता है. यह शरीर को वायरस, बैक्टीरिया आदि के संक्रमण से बचाता है. इसका मुख्य कारण शरीर को संक्रमण और रोगाणुओं से बचाना होता है. आयुर्वेद में कुछ ऐसी जड़ी- बूटियों का वर्णन किया गया है जो इम्यून सिस्टम यानी रोग प्रतिरोधक क्षमता को विकसित करने में मदद करते हैं. इन्हीं जड़ी बूटियों में से एक है लौंग. लौंग के सूखे फूल की कली का सेवन करने से इन सिस्टम मजबूत होता है.

6 .लौंग के तेल की मालिश करने से सिर दर्द में आराम मिलता है वहीं यदि किसी को दांत दर्द की समस्या है तो थोड़ी सी रुई में लौंग का तेल लगाकर दर्द वाले जगह पर रखने से आराम मिलता है.

7 .लौंग के तेल को नारियल के तेल में बराबर मात्रा में मिलाकर बालों में लगाने से बाल काले, घने, मजबूत और चमकदार होते हैं.

8 .सर्दी- जुकाम होने पर हल्दी, अदरक और लौंग को दूध में उबालकर पीने से काफी आराम मिलता है.

9 .खसरे के रोग में आराम पाने के लिए लौंग को पानी के साथ पीस लें और इसमें शहद मिलाकर इसका सेवन करें काफी लाभ मिलेगा.

10 .यदि आपको गले में खराश या खांसी की समस्या है तो एक लौंग लेकर चूसते रहें, ऐसा दिन में दो-तीन बार करने से गले की खराश और खांसी से आराम मिलता है.

11 .कई लोगों को बस कार या ट्रेन में सफर करते समय उल्टी होने की समस्या होती है ऐसे में यदि सफर के दौरान मे लौंग चूसते रहें तो उल्टी आना और जी मिचलाना जैसी समस्या दूर रहेगी.

12 .लौंग में मौजूद एंटीसेप्टिक गुण होने के कारण लौंग का सेवन करने से संक्रमण होने का खतरा दूर रहता है.

13 .लौंग वाला पानी पीने से खून साफ होता है. इससे कील- मुंहासे, फोड़े- फुंसियों की समस्या से भी राहत मिलती है.

14 .सर्दी- जुकाम होने पर नाक बंद होना आम समस्या है ऐसे में यदि लौंग के तेल को कपड़े में डालकर सूंघें तो बंद नाक खुल जाएगी.

15 .लौंग का तेल जोड़ों के दर्द होने पर भी राहत देने में मददगार होता है. इसके लिए इस तेल को दर्द वाले हिस्से पर मालिश करना चाहिए.

16 .सूखी खांसी हो गई हो तो लौंग को आग में भून कर पीस लें और शहद मिलाकर चाटें, इससे सूखी खांसी से आराम मिलेगी. नियमित ऐसा करने से खांसी की समस्या दूर हो जाएगी.

नोट- यह लेख शैक्षणिक उद्देश्य से लिखा गया है किसी बीमारी के इलाज का विकल्प नहीं है. अतः इस्तेमाल करने से पहले योग्य चिकित्सक की सलाह जरूर लें. धन्यवाद.

Share on:

मैं आयुर्वेद चिकित्सक हूँ और जड़ी-बूटियों (आयुर्वेद) रस, भस्मों द्वारा लकवा, सायटिका, गठिया, खूनी एवं वादी बवासीर, चर्म रोग, गुप्त रोग आदि रोगों का इलाज करता हूँ।

Leave a Comment