बदलते मौसम में अगर हो रहा हो सर्दी- जुकाम की समस्या तो गले की खराश दूर करने के लिए प्रयोग करें ये घरेलू नुस्खे, तुरंत मिलेगा आराम

हेल्थ डेस्क– बदलते मौसम में ज्यादातर लोगों को सर्दी- जुखाम की समस्या परेशान करती है. ऐसे में हो रहे गले में खराश सभी को डरा रहा होता है क्योंकि यह समस्या घर में बड़े से लेकर छोटे सभी को होने लगती है. गले में खराश की समस्या ठंडा खाने की वजह से भी हो सकती है. ऐसे में इन परेशानियों को दूर करने के लिए दवा का सेवन करने की बजाय कुछ घरेलू नुस्खों की मदद से भी आप इस समस्या को आसानी से दूर कर सकते हैं?

जानिए- घबराहट ( बेचैनी ) होने के कारण, लक्षण और घरेलू उपाय
बदलते मौसम में अगर हो रहा हो सर्दी- जुकाम की समस्या तो गले की खराश दूर करने के लिए प्रयोग करें ये घरेलू नुस्खे, तुरंत मिलेगा आराम

आज हम इस लेख के माध्यम से कुछ ऐसे घरेलू नुस्खों के बारे में जानेंगे जो बदलते मौसम में हो रहे सर्दी- जुखाम और गले की खराश की समस्या को आसानी से दूर करेगा.

चलिए जानते हैं उन नुस्खों के बारे में-

1 .गरम पानी और नमक-

गले की खराश को दूर करने के लिए देसी और अचूक उपाय गर्म पानी और नमक से गरारा करना है. यह उपाय सदियों से चला आ रहा है. इसे करने से एक- दो बार में ही राहत का अनुभव होने लगता है. गले की खराश और सर्दी- जुकाम की समस्या से जल्दी राहत पाने के लिए इसे आप दिन में दो से तीन बार कर सकते हैं. गले की खराश से आराम मिलेगा.

2 .लहसुन और देसी घी-

लहसुन में एंटीबायोटिक, एंटी-माइक्रोबियल और एंटी इन्फ्लेमेटरी गुण मौजूद होता है. इसमें सल्फर की मात्रा अधिक पाई जाती है जो बैक्टीरिया को खत्म करने का काम करता है. यदि आप सर्दी- जुकाम और गले की खराश से परेशान है तो तीन से चार लहसुन की कलियां लें. उसे एक चम्मच देसी घी में अच्छी तरह से पका लें और फिर लहसुन की कलियों को हटाकर घी को पी लें. एक दो बार में ही आराम मिलेगा.

3 .दालचीनी और शहद-

दालचीनी औषधीय गुणों से भरपूर होती है. इसके सेवन से शरीर में गर्माहट पैदा होता है साथ ही आपके गले की खराश से भी छुटकारा दिलाने में मदद करता है. एक चम्मच दालचीनी पाउडर को एक चम्मच शहद में मिला लें और इसे धीरे-धीरे खाएं. सर्दी- जुकाम और गले की खराश की समस्या से आराम मिलेगा. लेकिन इस बात का ध्यान रखें कि इसके सेवन के बाद लगभग आधे घंटे तक पानी नहीं पिएं.

4 .अदरक का रस, शहद और काली मिर्च-

यह नुस्खा सर्दी- जुकाम और गले की खराश दूर करने में काफी असरकारी होगा. शहद गले की खराश को दूर करता है तो वही अदरक में थर्मोजेनिक गुण मौजूद होते हैं जो सर्दी- जुकाम से राहत दिलाते हैं. इसमें एंटी इन्फ्लेमेटरी गुण भी पाए जाते हैं जो हमें संक्रमण से बचाते हैं. शहद में प्राकृतिक रूप से एंटीऑक्सीडेंट गुण मौजूद होते हैं जो रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत बनाने का काम करते हैं. इसके लिए एक चम्मच अदरक के रस में चुटकी भर काली मिर्च का पाउडर और एक चम्मच शहद मिलाएं. मिश्रण हल्का गर्म करके सेवन करें. सर्दी- जुकाम और गले की खराश काफी आराम मिलेगा.

5 .देसी घी और काली मिर्च-

गले की खराश दूर करने के लिए देसी घी और काली मिर्च काफी असरकारी है. इसके लिए 4-5 काली मिर्च का पाउडर को दो चम्मच देसी घी में डालकर अच्छी तरह की पकाएं. धीरे-धीरे गरमा गरम पिएं. देसी घी की गर्माहट और काली मिर्च का एंटीबैक्टीरियल गुण आपको गले की खराश के आराम दिलाएगा.

6 .तुलसी, गुड़ और काली मिर्च-

सर्दी- जुकाम और गले की खराश से छुटकारा पाने में तुलसी की पत्तियां, गुड़ और काली मिर्च काफी असरकारी नुस्खा है. इसके लिए दो कप पानी में 8-10 तुलसी के पत्ते, 2-3 काली मिर्च और स्वादानुसार गुड़ डालकर चाय बनाएं. अब चाय को गरमा गरम ही पिएं. इसके सेवन से सर्दी- जुकाम और गले की खराश दूर होने के साथ ही बुखार की समस्या से भी राहत मिलेगी.

नोट- यह लेख शैक्षणिक उद्देश्य से लिखा गया है. किसी भी प्रयोग से पहले योग्य चिकित्सक की सलाह जरूर लें. धन्यवाद.

Share on:

मैं आयुर्वेद चिकित्सक हूँ और जड़ी-बूटियों (आयुर्वेद) रस, भस्मों द्वारा लकवा, सायटिका, गठिया, खूनी एवं वादी बवासीर, चर्म रोग, गुप्त रोग आदि रोगों का इलाज करता हूँ।

Leave a Comment