सेहत के लिए बहुत जरूरी है विटामिन B12, जाने कम होने के लक्षण, बीमारियां और प्राप्त करने के स्रोत

हेल्थ डेस्क- विटामिन B12 हमारे शरीर के लिए अन्य विटामिनों के साथ ही जरूरी पोषक तत्वों में से एक है. विटामिन B12 न केवल लाल रक्त कण और डीएनए के निर्माण के लिए जरूरी है बल्कि दिमाग और नसों के विकास के लिए भी महत्वपूर्ण है. बहुत से लोग जो इस विटामिन का प्रचुर मात्रा में सेवन नहीं करते हैं वह विटामिन B12 के कई स्तरों से पीड़ित हो सकते हैं. सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि इसमें जब तक यह पोषक तत्व का स्तर अधिक कम नहीं हो जाता है तब तक इसकी कमी का पता नहीं चल पाता है और कई स्वास्थ्य समस्याएं खड़ी हो जाती है.

आज हम इस लेख के माध्यम से विटामिन बी 12 कम होने के क्या लक्षण है और इसकी कमी के कारण हमारे शरीर में क्या-क्या समस्याएं हो सकती है और इसे कैसे पूरा किया जा सकता है के बारे में जानेंगे.

विटामिन B12 की कमी हमें कैसे प्रभावित करती है ?

विटामिन B12 की कमी तब होती है जब आपके द्वारा सेवन किए गए भोजन से पूरी तरह से विटामिन B12 को हमारा शरीर नहीं ले रहा है जिससे इसे ठीक से काम करने की जरूरत होती है. अगर समय पर इलाज नहीं किया गया तो यह शारीरिक न्यूरोलॉजिकल और मनोवैज्ञानिक समस्याओं को उत्पन्न कर सकता है. विटामिन बी12 की कमी से एनीमिया भी एक स्वास्थ्य समस्या है.

विटामिन बी12 की कमी के लक्षण क्या है ?

हमारे शरीर में विटामिन B12 की कमी होने पर निम्न लक्षण उत्पन्न हो सकते हैं जैसे-

आंखों की रोशनी प्रभावित होना.

डिप्रेशन.

भूख कम लगना या न लगना.

मुंह में छाले हो जाना.

कमजोरी और थकान महसूस होना.

त्वचा का पीला पड़ना.

ज्यादा ठंड लगना.

विटामिन B12 की कमी से हमारे शरीर में क्या-क्या समस्याएं ( बीमारियां ) हो सकती है?

1 .अल्जाइमर-

सेहत के लिए बहुत जरूरी है विटामिन B12, जाने कम होने के लक्षण, बीमारियां और प्राप्त करने के स्रोत
सेहत के लिए बहुत जरूरी है विटामिन B12, जाने कम होने के लक्षण, बीमारियां और प्राप्त करने के स्रोत

हमारे शरीर में विटामिन B12 की कमी होने से मनोभ्रंश और अल्जाइमर जैसी अधिक विशिष्ट बीमारी हो सकती है. अल्जाइमर रोग एक बढ़ने वाली लाइलाज बीमारी है जो हल्की स्मृति हानि से शुरू होती है. कई अध्ययनों में पाया गया है कि अल्जाइमर रोग के रोगियों में विटामिन B12 के स्तर को सबक्लिनिकल लो नार्मल रेंज में वर्गीकृत किया गया था.

2 .त्वचा रोग-

सेहत के लिए बहुत जरूरी है विटामिन B12, जाने कम होने के लक्षण, बीमारियां और प्राप्त करने के स्रोत
सेहत के लिए बहुत जरूरी है विटामिन B12, जाने कम होने के लक्षण, बीमारियां और प्राप्त करने के स्रोत

विटामिन B12 की कमी होने से त्वचा में इंफेक्शन हो सकता है. घाव भरने में देरी होना, बालों का झड़ना, नाखूनों से जुड़ी समस्याएं होना इत्यादि.

3 .महिलाओं में गर्भधारण में समस्या-

सेहत के लिए बहुत जरूरी है विटामिन B12, जाने कम होने के लक्षण, बीमारियां और प्राप्त करने के स्रोत
सेहत के लिए बहुत जरूरी है विटामिन B12, जाने कम होने के लक्षण, बीमारियां और प्राप्त करने के स्रोत

विटामिन B12 की कमी होने होने से गर्भधारण करने में महिलाओं को समस्या उत्पन्न हो सकती है. वही जो महिलाएं गर्भ धारण कर चुकी हैं उनके शरीर में विटामिन बी12 की कमी होने पर गर्भपात होने का खतरा अधिक हो जाता है. इसके साथ ही गर्भ में पल रहे बच्चे के विकास में बाधा आ सकती है.

4 .रक्ताल्पता-

यह रोग मुख्यतः शरीर में खून की कमी से जाना जाता है. इस में आरबीसी की अपरिपक्वता के कारण रक्त में आरबीसी और हेमोग्लोबिन की संख्या में अत्यंत कमी हो जाती है. ऐसे में शरीर में कई गंभीर रोग उत्पन्न होने लगते हैं. रक्ताल्पता के लिए विटामिन B12 भी जिम्मेदार होता है.

5 .मानसिक रोग-

अगर शरीर में विटामिन बी 12 की कमी हो जाए तो यह मस्तिष्क के लिए बहुत घातक हो सकता है इसकी कमी से मानसिक रोग उत्पन्न हो सकते हैं जैसे भूलना, सिर दर्द, चक्कर आना इत्यादि.

6 .नाड़ी में विकार-

शरीर में विटामिन B12 की कमी की नाड़ियों में विकार पैदा हो जाता है. नाड़ी तंतु में घाव हो जाते हैं. सुषुम्ना नाड़ी के श्वेत पदार्थ के बाहरी आवरण का नाश होने लगता है.

7 .जोड़ों में दर्द-

सेहत के लिए बहुत जरूरी है विटामिन B12, जाने कम होने के लक्षण, बीमारियां और प्राप्त करने के स्रोत
सेहत के लिए बहुत जरूरी है विटामिन B12, जाने कम होने के लक्षण, बीमारियां और प्राप्त करने के स्रोत

विटामिन B12 की कमी होने के कारण व्यक्तियों की हड्डियों में प्रभाव पड़ता है यह रोगी के लिए हाथ- पैर के जोड़ों में दर्द एवं सूजन उत्पन्न कर सकता है. कमर दर्द एवं हड्डियों में दर्द की समस्या विटामिन B12 की कमी के कारण हो सकती है.

विटामिन B12 की कमी पूरा करने के लिए करें इन चीजों का सेवन-

विटामिन बी 12 प्राप्त करने के स्रोत-

विटामिन B12 की कमी को पूरा करने के लिए आप अंडा, दूध, मीट, चीज, बड़ी सीप, अनाज, ब्रोकली, केकड़े और झींगा मछलियां, कस्तूरी, सालमन मछली इत्यादि का सेवन कर सकते हैं.

Share on:

मैं आयुर्वेद चिकित्सक हूँ और जड़ी-बूटियों (आयुर्वेद) रस, भस्मों द्वारा लकवा, सायटिका, गठिया, खूनी एवं वादी बवासीर, चर्म रोग, गुप्त रोग आदि रोगों का इलाज करता हूँ।

Leave a Comment